100 भारतीय संस्थान ने “वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी” टैग के लिए किया अप्लाई, सिर्फ 20 ही चुने जाएंगे ।

latest news at teaveenews.com
Spread the love

(नई दिल्ली): 2017 में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) को, लोक विश्वविद्यालयों कॉलेजों और मानव संसाधन विकास (एचआरडी) से वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी टैग के लिए करीब 100 आवेदन मिले है जिनमें से केवल 20 का ही चयन किया जाएगा।

सार्वजनिक क्षेत्र के खंड में 25 राज्य विश्वविद्यालयों, 20 राष्ट्रीय महत्व संस्थाओं, 10 केंद्रीय विश्वविद्यालयों, डीयू के विश्वविद्यालयों और छह स्टैंड-अलोन संस्थानों ने आवेदन किया है। निजी क्षेत्र के अंतर्गत 16 डीम्ड विश्वविद्यालयों तथा 9 निजी विश्वविद्यालयों ने ब्राउन फील्ड श्रेणी के अंतर्गत आवेदन किया है तथा 8 अन्य ने ग्रीन फील्ड श्रेणी में आवेदन किया है।

इसके अलावा 7 भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान सार्वजनिक क्षेत्र से आवेदन कर चुके हैं। इसमें कानपुर, मद्रास, दिल्ली, गुवाहाटी, रुड़की, बंबई, खड़गपुर) दिल्ली विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, जाधवपुर विश्वविद्यालय, गोवा विश्वविद्यालय, पंजाब विश्वविद्यालय और मंगलौर विश्वविद्यालय। निजी क्षेत्र के तहत अशोका विश्वविद्यालय, एमिटी विश्वविद्यालय, मणिपाल विश्वविद्यालय और ओ पी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने टैग के लिए आवेदन किया है ।

सरकार के ‘वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी’ टैग के लिए चयनित उच्च प्रदर्शन करने वाले भारतीय संस्थानों को अपने स्वयं के कार्य ढांचे को पाठ्यक्रम आयोजित करने या सिलेबस को बदलने या विदेशी संकाय किराए पर देने की स्वतंत्रता होगी। केंद्रीय एचआरडी मंत्री प्रकाश जावडेकर ने अपनी खुशी व्यक्त की और कहा, ‘प्रतिष्ठा के संस्थान’ के विचार पर भारी प्रतिक्रिया है। इस तरह विभिन्न देशों में विश्व स्तरीय विश्वविद्यालयों का निर्माण किया गया। भारत में भी यही बात होगी। ‘

शिक्षा मंत्रालय ने 90 दिन की आवेदन अवधि दी थी। यूजीसी ने सितंबर में उन सभी संस्थानों से आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी जो सरकार की मंजूरी के साथ ग्लोबल रैंकिंग के टॉप 100 में प्रवेश करने में रुचि रखते हैं। केंद्र ने कुल 20 ‘प्रतिष्ठा के संस्थान’ की स्थापना की इच्छा रखती है। इन विश्वविद्यालयों को ‘विश्व स्तरीय’ संस्था बनने के लिए समर्थन करेगी।

2018 में मार्च-अप्रैल तक 10 सार्वजनिक और 10 निजी श्रेणी के संस्थानों को 10 वर्ष की अवधि के भीतर विश्व स्तर की स्थिति को प्राप्त करने के लिए जनादेश के साथ प्रख्यात दर्जा प्रदान किया जाएगा। एचआरडी वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार चयन इस प्रयोजन के लिए गठित सशक्त विशेषज्ञ समिति द्वारा चैलेंज मेथड मोड के माध्यम से किया जाएगा ।

टीम टी वी न्यूज़, दिल्ली

Team TEA VEE News,Delhi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: LEGAL action will be taken against you if you copy any content | TEA-VEE News is a TRADEMARK | LEGAL Dept. (Tea Vee News Channel)