लालू यादव बिहार चारा घोटाले में दोषी करार,3 जनवरी तक जेल में रहेंगे |

लालू यादव बिहार चारा घोटाले में दोषी करार,3 जनवरी तक जेल में रहेंगे |

Spread the love

(बिहार): रांची में विशेष केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की अदालत में चारा घोटाले मामले में शनिवार को अपने फैसले में पूर्व बिहार के मुख्यमंत्री लालु प्रसाद को दोषी करार दिया।इस मामले अब लालू यादव सहित अन्य 15 दोषियों को 3 जनवरी को सजा सुनाई जाएगी। स्पेशल सीबीआई जज शिवपाल सिंह ने यह फैसला सुनाया। फैसला आने के बाद लालू यादव को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है वह 3 जनवरी तक जेल में रहेंगे। वहीं इसी मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा, ध्रुव भगत, विद्यासागर निषाद सहित 6 लोगों को बरी कर दिया है। जबकि लालू सहित 16 लोगों को अदालत ने दोषी पाया है।

अदालत ने 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले से जुड़े साल 1990 से 1994 के बीच देवघर कोषागार से करीब 90 लाख रुपये की अवैध निकासी के मामले में यह सजा सुनाई है।अवैध ढंग से पशु चारे के नाम पर निकासी के इस मामले में कुल 38 लोग आरोपी थे।अवैध ढंग से धन निकालने के इस मामले में लालू प्रसाद यादव एवं अन्य के खिलाफ सीबीआई ने आपराधिक षड्यन्त्र, गबन, फर्जीवाड़ा, साक्ष्य छिपाने, पद के दुरुपयोग आदि से जुड़े 27 अक्तूबर, 1997 को मुकदमा संख्या आरसी 64ए 1996 दर्ज की थी।

फैसला सुनाए जाने से पहले एक न्यूज चैनल से बातचीत में लालू प्रसाद ने कहा कि “सबको न्याय मिल रहा है, मैं तो पिछड़ी जाति से हूं। मुझे न्याय मिलने की उम्मीद है। लालू ने कहा कि एक ही आदमी को कई केसों में फंसाया गया है।”

फैसला आते ही आरजेडी के प्रवक्ता मनोज झा की की ओर से तुरंत प्रेस कांन्फ्रेस की गई और फैसले पर सवाल उठाए गए। आरजेडी ने कहा कि अवैध निकासी पर जिसने एफआईआर किया है उसी को जेल भेज दिया गया। इसके पीछे पूरी तरह से बीजेपी की साजिश है। हमें पूरी न्यायपालिका पर भरोसा है। इस देश को सिर्फ दो लोग चला रहे हैं।

टीम टी वी न्यूज़, बिहार

Team TEA VEE News,Bihar 

bihar national news