इंस्पेक्टर को हटवाने के प्रयास में सिपाही ही हो गया स्वंय लाइन हाजिर

इंस्पेक्टर को हटवाने के प्रयास में सिपाही ही हो गया स्वंय लाइन हाजिर

Spread the love

फर्रुखाबाद (उत्तर प्रदेश ) : शहर कोतवाल को हटवाने के प्रयास में चर्चित सिपाही अरविन्द कुमार दुबे लाइन हाजिर हो गया। पांचालघाट चौकी में तैनात सिपाही अरविन्द को इंस्पेक्टर संजीव सिंह राठौर ने सुबह चौकी से हटाकर कोतवाली कर दिया। इसी बात से गुस्साये सिपाही अरविन्द ने मीडिया से वार्ता कर इंस्पेक्टर पर रिश्वत मांगकर प्रताडित करने का आरोप लगाया। बाद में उच्चाधिकारियों के समक्ष पेश होने की परमीशन लेने के लिये कार्यवाहक पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन सिंह ने एएसपी के पास पहुंचा। सिपाही ने एसपी को अवगत कराया कि इंस्पेक्टर द्वारा बिना किसी कारण शारीरिक मानसिक एवं आर्थिक रूप से परेशान किया जा रहा है। पिछले कुछ माह से मुझे डयूटी नही करने दी जा रही है।

जिससे मै मानसिक रूप से परेशान हूँ। मुझसे रूपयों की मांग की जाती है। मै रूपये देने में असमर्थ हूँ। जिसके कारण मुझे परेशान किया जा रहा है और मुझपर अवैध बसूली करने का दबाब बनाया जा रहा है। सिपाही की शिकायत देखकर एएसपी भौचक्के रह गये। उन्होने तुरंत ही इंस्पेक्टर श्री राठौर को भी बुला लिया। इंस्पेक्टर श्री राठौर ने सिपाही की कार्यशैली एवं घोर अनुशासन हीनता की जानकारी दी। तब सिपाही ने आरोप लगाया कि इंस्पेक्टर मुझसे 1500 रूपये प्रतिमाह लेते है। रिश्वत की धनराशि बढाने का दबाब डाल रहे थे। जब मैने और अधिक रूपये न दे पाने की बात कही तो मुझे वहां से हटाकर कोतवाली भेज दिया।

सिपाही का यह जबाब सुनकर एएसपी ने समझा कि सिपाही को बसूली कार्य से हटा दिया गया। तो शिकायत ही झूठी है तभी एएसपी ने सिपाही के ही शिकायती पत्र पर रिजर्व पुलिस लाइन में आमद कराने का आदेश कर दिया। सिपाही सांय एएसपी का आदेश लेकर कोतवाली पहुंचा। जनपद ललितपुर थाना जाफलान के ग्राम डावनी निवासी अरविन्द दुबे पुत्र श्रीराम का प्रशासनिक आधार पर फर्रूखाबाद के लिये तबादला किया गया। उन्होने 8 जुलाई 2017 को कोतवाली फर्रूखाबाद में आमद कराई थी। पुलिस विभाग में चर्चा है कि दबंग सिपाही अरविन्द ने इंस्पेक्टर के लिये अपशब्दो का प्रयोग कर तबादला करवाने की बात कही थी।

इस बात की जानकारी मिलने पर इंस्पेक्टर ने अरविन्द को पांचालघाट से हटाकर पल्ला चौकी भेज दिया। तब सिपाही ने कई लोगों से इंस्पेक्टर से सिफारिश करवाकर पांचालघाट में वापसी करवा ली। अरविन्द करीब एक माह की छुट्टी से कल ही वापस आया था। इससे पूर्व अरविन्द ने इंस्पेक्टर के दोस्त विभागीय इंस्पेक्टर आदि पुलिस कर्मियों से सिफारिश करवाई। भाजपा विधायक से भी सिफारिश करवाई। जब इंस्पेक्टर ने भाजपा विधायक को बताया कि कोई व्यक्ति आपको सरेआम गाली दे तो उसे कैसे मांफ किया जा सकता है। यह सुनकर विधायक भी खामोश हो गये। अरविन्द के खास 2 पुलिस कर्मियों ने ही उसे अधिकारियों से शिकायत करने की सलाह दी थी। अब शीघ्र ही इन सिपाहियों पर भी गाज गिर सकती है।

टीम टी वी न्यूज़ चैनल

फर्रुखाबाद
(उत्तर प्रदेश)

Team TEA VEE News Channel 

Farrukhabad

UTTAR PRADESH

furukhabad Uttar Pradesh