Narendra batra latest news of hockey federation

नरेंद्र बने अंतरराष्ट्रीय हॉकी परिषद के पहले भारतीय अध्यक्ष (पढ़िए पूरी खबर) |

Spread the love

(नई दिल्ली): भारतीय हॉकी के प्रमुख नरेंद्र बत्रा अब अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (FIH) के अध्यक्ष बन गए हैं। नरेंद्र बत्रा पहले भारतीय और गैर-यूरोपीय है जिन्होंने ये उपलब्धि हासिल की है।बत्रा अंतरराष्ट्रीय हॉकी परिषद के 12वें अध्यक्ष बने है। दुबई में बत्रा का 40 दिन का अभियान चला और विश्व भर में 78 देशों में राष्ट्रीय परिसंघ के नेताओं की बैठक हुई। उनके प्रयासों के रूप में 118 वोटों में से सर्वाधिक 68 वोट मिले। जबकि आयरलैंड के डेविड बॉलबिर्नि को 29 और ऑस्ट्रेलिया के केन रीड को 13 वोट मिले।पूर्व अध्यक्ष लियेन्दो नेग्रे से बत्रा के संबंध हमेशा अच्छे रहने की वजह से माना जा रहा है कि पूर्व अध्यक्ष नेग्रे ने भी इस चुनाव में बत्रा की मदद की है।

नए प्रमुख के रूप में अपने प्राथमिक एजेंडे पर पूछे जाने पर बत्रा ने बताया कि उनका मुख्य फोकस खेल की पहुंच बढ़ाने और राजस्व बढ़ाने पर होगा। ‘’हॉकी के विकास को बढ़ाने के लिए सीमाएं भी बढ़ानी पड़ती हैं।वर्तमान में अभी 12 से 14 देशों के बीच ही खेल की प्रतिस्पर्धा होती है और हमे इसे और आगे बढ़ाना है। हम राजस्व पैदा करने पर भी काम करना चाहते हैं। हम विभिंन स्थानों पर टूर्नामेंट करना चाहता है। यह महत्वपूर्ण है क्योंकि यह सदस्यों के विकास में मदद करता है। जो की मदतगार रहेगा खिलाड़ियों के लिए कि हॉकी में भी कैरियर बना सकता हैं। इस खेल की पहुंच बढ़ाने के लिए, सामाजिक मीडिया का उपयोग करने की भी योजना है। ‘

बत्रा फिलहाल भारतीय हॉकी संघ के अध्यक्ष हैं, लेकिन अब अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ FIH प्रमुख बन जाने के बाद उन्हें भारतीय हॉकी संघ की जिम्मेदारी छोड़नी पड़ेगी।बत्रा पहले राष्ट्रीय स्तर तक जम्मू की हॉकी टीम की प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।वह पहले केपीएस गिल की अध्यक्षता वाली भारतीय हॉकी संघ के भी सदस्य रह चुके हैं। 2009 में हॉकी इंडिया बनने के बाद वह इसके सचिव और 2014 में इसके अध्यक्ष बन गए।

बत्रा के कार्यकाल के दौरान हॉकी इंडिया लीग की भी शुरुआत हुई। इसके अलावा भारत में कई अंतरराष्ट्रीय हॉकी टूर्नामेंट के भी आयोजन हुए। मसलन, FIH चैंपियंस ट्रॉफी 2014, FIH हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल 2015, FIH जूनियर हॉकी मेन्स वर्ल्ड कप 2016 (दिसंबर में) और FIH मेन्स वर्ल्ड कप 2018 जैसे बड़े टूर्नामेंट को भारत में लाने का श्रेय बत्रा को जाता है। हॉकी के जानकार कहते हैं कि इससे भारतीय हॉकी को फायदा जरूर पहुंचेगा।

टीम टी वी न्यूज़ , दिल्ली

Team TEA VEE News,Delhi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: LEGAL action will be taken against you if you copy any content | TEA-VEE News is a TRADEMARK | LEGAL Dept. (Tea Vee News Channel)